Online Mahalakshmi Race Course ⚡ New Rummy Cash Games ⚡ Betting Exchange India

(Online Mahalakshmi Race Course) ⚡ New Rummy Cash Games Take a chance and cash out big, Online Gambling Feel the Thrill of Winning at the Online Casino!. लखनऊ। Lucknow Court Firing : उत्तरप्रदेश के लखनऊ ने कैसरबाग स्थित कोर्ट परिसर में पेशी पर आए बदमाश संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हमलावर वकील की ड्रेस में आए थे। फायरिंग में 1 बच्ची, पुलिसकर्मी समेत 4 लोग जख्मी हैं। कुख्यात संजीव के हत्यारे की पहचान विजय यादव पुत्र श्यामा यादव निवासी केराकत जिला जौनपुर के रूप में हुई है। पुलिस छानबीन में जुटी हुई है।मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस तैनात है। सूत्रों की मानें तो जीवा मुख्तार अंसारी का करीबी बताया जाता है। अभी फिलहाल वह लखनऊ जेल में बंद था। हाल ही में प्रशासन ने उसकी संपत्ति भी कुर्क की थी। खबरों के मुताबिक शूटर की गिरफ्‍तारी हो गई है। कौन है जीवा : जीवा मुजफ्फरनगर का एक कुख्यात बदमाश था। शुरुआती दिनों में वह एक दवाखाना में कंपाउंडर की नौकरी करता था। बाद में उसी दवाखाना के मालिक को ही अगवा कर लिया था। संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा का नाम 10 फरवरी 1997 को हुई भाजपा के नेता ब्रह्मदत्त द्विवेदी की हत्या में सामने आया। इस केस में संजीव माहेश्वरी उर्फ उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। इसके कुछ दिन बाद मुन्ना बजरंगी गैंग में शामिल हो गया। इसी समय उसका संपर्क मुख्तार अंसारी से हुआ। मुख्तार को अत्याधुनिक हथियारों का शौक था तो संजीव माहेश्वरी उर्फ के पास हथियारों को जुटाने का तिकड़मी नेटवर्क था। इसी कारण उसे अंसारी का सपोर्ट था और फिर संजीव जीवा का नाम कृष्णानंद राय हत्याकांड में भी आया। हालांकि संजीव माहेश्वरी उर्फ को साल 2005 में हुए कृष्णानंद राय हत्याकांड में कोर्ट ने बरी कर दिया गया था। पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, संजीव माहेश्वरी उर्फ पर 22 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हुए। इनमें से 17 मामलों में संजीव बरी हो चुका था जबकि उसकी गैंग में 35 से ज्यादा सदस्य हैं।

Casino Pride New Rummy Cash Games Betting Exchange India

New Rummy Cash Games
Take a chance and cash out big

किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। आप पैनी नजर के होते हैं। शुभ दिनांक : 7, 16, 25 शुभ अंक : 7, 16, 25, 34 शुभ वर्ष : 2023 ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु शुभ रंग : सफेद, पिंक, जामुनी, मेहरून कैसा रहेगा यह वर्ष नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं व मंदिर में पताका चढ़ाएं। आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। New Rummy Cash Games, ऑस्ट्रेलिया के कप्तान पैट कमिंस ने कहा, हम भी गेंदबाजी करते। उम्मीद है कि चौथे और पांचवें दिन गेंद थोड़ा स्पिन होगी। यह पिच उनकी गेंदबाजी के अनुकूल है, वे (गेंदबाज) अहम हथियार होंगे। हम यहां करीब 10 दिन से हैं। काफी तरोताजा हैं, मौसम अच्छा रहा है। हमने एक सत्र नहीं छोड़ा है, अच्छा महसूस कर रहे हैं।

मंगलवार को जब कब्रिस्तान में कुछ लोग मैय्यत लेकर पहुंचे तो पाया कि एक पुराने कब्र में कुछ बोरे पड़े हुए हैं। जब लोगों ने इन बोरों को खोलकर देखा तो अचंभित हो गए। कब्र के भीतर बोरे में भरकर देसी शराब के पाउच रखे गए थे। Live Royal Panda Play and Collect Prizes! Feel the Thrill of Winning at the Online Casino! राजेश खन्ना और डिम्पल के बीच अनबन की खबरें तब फिल्म पत्रिकाओं में सुर्खियां हुआ करती थीं। एक बार डिम्पल ने अपनी दो बेटियों ट्विंकल और रिंकी के साथ राजेश का घर छोड़ने का निर्णय ले लिया था तब राज कपूर के कहने पर ही उन्होंने अपना इरादा बदला। 14

Betting Exchange India

Odisha Train Accident: ओडिशा के बालासोर में हुए ट्रेन हादसे में 278 लोगों की मौत हुई और 1100 से ज्यादा लोग घायल हुए। हादसे के बाद एक पुलिस अधिकारी ने दावा किया किया कोरोमंडल एक्सप्रेस में करीब 40 यात्रियों की मौत बिजली के झटके से हुई। इस लोगों के शव पर बाहरी चोट का कोई निशान नहीं है। बताया जा रहा है कि कोरोमंडल एक्सप्रेस की बोगियों से यशवंतपुर (बेंगलुरु)-हावड़ा एक्सप्रेस के टकराने से बिजली के तार संभवत: टूट गए। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि कई शव पहचानने लायक भी नहीं थे। इनमें से लगभग 40 ऐसे शव थे, जिनमें कोई चोट के निशान या कहीं से भी रक्तस्राव नहीं था। इनमें से कई मौतें संभावित रूप से करंट लगने से हुई हैं। राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के एक अधिकारी द्वारा शनिवार को दर्ज कराई FIR में कहा गया कि कि टक्कर और ओवरहेड एलटी लाइन के संपर्क में आने के कारण कई यात्रियों की मौत हो गई। मौत के आंकड़ों पर सवाल : खुर्दा रोड डिविजन के डिविजनल रेलवे मैनेजर (डीआरएम) रिंकेश रॉय ने बताया कि इस हादसे में 278 लोगों की मौत हुई है और करीब 1100 लोग घायल हुए हैं। 278 शवों में से 177 की पहचान कर ली गई है जबकि 101 शवों की पहचान बाकी है और इन शवों को 6 अस्पतालों में रखा गया है। इससे पहले, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी ने आंकड़ों पर सवाल उठाते हुए कहा था कि उनके राज्य के ही 61 लोग मारे गए हैं और 182 अन्य अब भी लापता हैं। संदिग्ध मामलों में डीएनए : ओडिशा सरकार ने शवों की पहचान को प्रमाणित करने और फर्जी दावेदारों से बचने के लिए सोमवार को कुछ संदिग्ध मामलों में शवों को वास्तविक रिश्तेदारों को सौंपने से पहले डीएनए नमूने लेना शुरू किया। बिहार के भागलपुर के दो अलग-अलग परिवारों द्वारा एक शव को अपने रिश्तेदार होने का दावा करने के बाद यह निर्णय लिया गया। शव के क्षत-विक्षत अवस्था में होने के कारण उसकी पहचान कर पाना मुश्किल था। राज्य सरकार यह तय करने में असमर्थ हो गई कि शव किसे सौंपा जाए, जिसके बाद उसने दावेदारों का डीएनए नमूना लेने और ऐसे संदिग्ध मामलों में इसे एक सामान्य प्रक्रिया बनाने का फैसला किया। Betting Exchange India, हाल ही में सनी लियोनी ने बिकिनी पहने समंदर किनारे एंजॉय करते हुए अपनी तस्वीरें शेयर की है। तस्वीरों में सनी ब्लू कलर की प्रिंटेड बिकिनी पहने दिख रही हैं। वह समंदर किनारे बोल्ड अंदाज में पोज देती दिख रही हैं। सनी लियोनी ने बिकिनी के साथ एक श्रग भी पहना है, जो उनके लुक में चार चांद लगा रहा है। आंखों पर काला चश्मा और खुले बालों के साथ सनी ने अपने लुक को कम्प्लीट किया है। इसके अलावा सनी लियोनी ने एक रील भी शेयर की है। इस रील में सनी समंदर किनारे वॉक करती दिख रहे हैं। सनी ने कैप्शन में लिखा, 'काश सारे रास्ते पूरे दिन और हर दिन ऐसे ही होते।' सनी लियोनी के वर्क फ्रंट की बात करें तो हाल ही में उनकी फिल्म 'कैनेडी' का कान फिल्म फेस्टिवल में प्रीमियर हुआ है। यह फिल्म 24 मई को रिलीज होगी।

Take a Risk - Win Big! Online Play Poker Guru सरकार जिस तरह से लगातार सरकारी कर्मचारियों के लिए अवकाश का एलान रही है, उसके अनुसार प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों को 6 महीने से कम काम करना पड़ता है। मध्यप्रदेश में पहले से सरकारी कर्मचारियों के लिए 5 डे वीक किया जा चुका है। अगर सरकारी कर्मचारियों की बात करें तो प्रदेश में सरकारी कर्मचारियों को सिर्फ जयंती और पुण्यतिथि पर 30 छुट्टियां मिलती है। इसके साथ 53 रविवार के साथ 52 शनिवार के धार्मिक पर्व और त्योहारों के साथ सरकारी कर्मचारियों को ईएल, 13 सीएल और 20 मेडिकल लीव शामिल है। नई दिल्ली। स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (NCB) ने मंगलवार को कहा कि उसने देश में लगभग 15,000 एलएसडी ब्लॉट्स की ‘अब तक की सबसे बड़ी’ खेप जब्त की है और ‘डार्क नेट’ के जरिए संचालित मादक पदार्थों की तस्करी के एक गिरोह का भंडाफोड़ करने के साथ 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों के अनुसार जब्त की गई खेप (लगभग 5 हजार से 7 हजार रुपए प्रति ब्लॉट) की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 10 करोड़ रुपए से अधिक है। यह अभियान पिछले महीने के अंत में शुरू किया गया था। जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है वे छात्र और युवा हैं जो गोपनीय इंटरनेट-आधारित ऐप और डब्ल्यूआईसीकेआर जैसी मैसेंजर सेवा के जरिए अपनी पहचान छिपाकर ‘आसानी से पैसा’ बनाना चाहते थे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस उपलब्धि पर मादक पदार्थ रोधी संघीय एजेंसी को बधाई देते हुए कहा कि यह साइबर सतर्कता और मानव खुफिया के बीच बड़े समन्वय को दर्शाता है और यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नशा मुक्त भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप है। एलएसडी या लिसर्जिक एसिड डाइथिलेमाइड वास्तव में सिंथेटिक रसायन आधारित एक मादक पदार्थ है तथा इसे मतिभ्रमकारी के रूप में वर्गीकृत किया गया है। इसे स्टाम्प पेपर के आधे आकार के ब्लॉट्स पर पेंट कर इसकी तस्करी की जाती है और इसे चाट या निगल कर खाया जाता है। एनसीबी के उप महानिदेशक (उत्तरी रेंज) ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि यह देश में किसी अभियान में एलएसडी ब्लॉट्स की जब्त की गई ‘सबसे बड़ी खेप’ है। अब तक 6 युवाओं को गिरफ्तार किया गया है और हम ऐसे ही एक और गिरोह का पता लगा रहे हैं। अधिकारियों ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोग 25-28 वर्ष की आयु के हैं। गृह मंत्री ने कहा कि सफलता ‘साइबर सतर्कता और मानव खुफिया के बड़े महान समन्वय का परिणाम है...क्योंकि इन मादक पदार्थों का व्यापार करने के लिए डार्कनेट और क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल किया जाता था।’ गृह मंत्री ने ट्वीट किया कि गहन सतर्कता और बेहतर समन्वय के कारण पिछले कुछ वर्षों में भारत में मादक पदार्थों की जब्ती में तेजी से वृद्धि हुई है। सिंह ने कहा कि करीब दो सप्ताह के अभियान के तहत कुल 14,961 ब्लॉट्स जब्त किए गए और ये ब्लॉट्स ‘गैमागोब्लिन एंड होली स्पिरिट ऑफ असुर’ ब्रांड के हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक कर्नाटक पुलिस ने 2021 में एलएसडी के सबसे अधिक 5,000 ब्लॉट्स जब्त किए थे और इसी तरह कोलकाता पुलिस ने 2022 में एक अभियान में इतनी ही मात्रा में ब्लॉट्स जब्त किए। उन्होंने बताया कि एलएसडी का सबसे अधिक दुरुपयोग युवा कर रहे हैं और इससे गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा हो सकती हैं। अधिकारियों के अनुसार, एलएसडी को मादक पदार्थों के बीच ‘एसिड’ के रूप में जाना जाता है और यह गंधहीन, रंगहीन और स्वादहीन होता है। एनएसबी के एक अधिकारी ने कहा कि 0.1 ग्राम एलएसडी (लगभग छह ब्लॉट) की बरामदगी से व्यक्ति के खिलाफ मादक पदार्थ पर रोकथाम संबंधी एनडीपीएस कानून के तहत सख्त कार्रवाई हो सकती है। एनसीबी के उप महानिदेशक सिंह ने कहा कि लगभग 15,000 एलएसडी ब्लॉट की नवीनतम जब्ती व्यावसायिक मात्रा का 2,500 गुना है। उन्होंने कहा कि जब्त एलएसडी पोलैंड और नीदरलैंड से मंगवाया गया था और यह गिरोह क्रिप्टोकरंसी और यूपीआई के माध्यम से भुगतान करके विभिन्न राज्यों में इसकी तस्करी कर रहा था। इसे कोरियर और डाक नेटवर्क के माध्यम से भेजा जाता था। अधिकारियों ने कहा कि एनसीबी क्रिप्टो फंड्स पर भी रोक लगाने की कोशिश कर रहा है। सिंह ने कहा, ‘‘हमारे द्वारा पकड़े गए आपूर्तिकर्ताओं और उपभोक्ताओं के बीच निजी बातचीत का रिकॉर्ड नहीं मिला और वे डार्कनेट पर संपर्क में थे। उन्होंने कहा कि कई घंटों तक डार्कनेट पर ‘गश्त’ करने के बाद एनसीबी की दिल्ली जोनल इकाई की एक विशेष टीम ने कार्रवाई की। ‘डार्क नेट’ का मतलब इंटरनेट में गहराई में छिपे उन मंचों से है जिनका इस्तेमाल मादक पदार्थों को बेचने, पोर्नोग्राफी सामग्री के आदान-प्रदान और अन्य गैरकानूनी गतिविधियों के लिए किया जाता है। इंटरनेट पर संचार में गोपनीयता बनाए रखने के लिए ‘अॅनियन राउटर’ की मदद से इन गतिविधियों को अंजाम दिया जाता है ताकि कानून प्रवर्तन एजेंसियां इन्हें पकड़ न पाएं। उप महानिदेशक ने कहा कि एलएसडी ब्लाट्स के अलावा 2.32 किलोग्राम गांजा और 4.65 लाख रुपए नकदी के अलावा बैंक में 20 लाख रुपए की जमा राशि जब्त की गई है। सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए ज्यादातर लोग छात्र और युवा हैं। उन्होंने कहा कि एक छात्र गोवा का है जो नोएडा के एक निजी विश्वविद्यालय में पढ़ता है, दूसरा दिल्ली का लड़का है जो इनमें से कुछ ब्लॉट्स को कश्मीर भेजने की कोशिश कर रहा था और एक लड़की है, जिसे एनसीआर से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि जयपुर स्थित एक आपूर्तिकर्ता और केरल के एक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है। इसी तरह के एक डार्कनेट-आधारित ड्रग्स तस्करी रैकेट का एजेंसी ने 2021 में भंडाफोड़ कर 40 लोगों को गिरफ्तार किया था। भाषा

Online Gambling

Australia आस्ट्रेलिया के शीर्ष तेज गेंदबाज Mitchell Starc मिशेल स्टार्क ने कहा कि वह अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को लंबा खींचने के लिये काफी समय से Indian premiere league इंडियन प्रीमियर लीग IPL (आईपीएल) में हिस्सा नहीं ले रहे हैं क्योंकि वह 100 टेस्ट मैचों में अपने देश का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं।एकदिवसीय विश्व कप 2015 और टी20 विश्व कप 2021 जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के सदस्य रहे स्टार्क एक और आईसीसी खिताब जीतना चाहेंगे जब भारत और ऑस्ट्रेलिया बुधवार से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में खेलेंगे। Online Gambling, सीमा ने लिखा है कि पिछले तीन महीने में दुनिया का शिक्षा का इतिहास पढ़ डाला है। किस देश के किस नेता ने शिक्षा पर जिद करके काम किया और फिर वे देश आज कहां से कहां पहुंच गए हैं। जापान, चीन, सिंगापुर, इजराइल, अमेरिका... भारत की शिक्षा में क्या अच्छा हुआ, क्या कमी रह गई। आज की हमारी मुलाकात में मेरी तबीयत के साथ-साथ ये बातें भी हुईं। उन्होंने लिखा है कि मुझे फख्र है कि मेरा पति आज भी अपनी उसी जिद और तेवर में है। अरविंद और मनीष के खिलाफ साजिशें करके वे लोग खुश होंगे कि अरविंद के सिपाही को जेल में डाल दिया है, पर मैं देख रही हूं कि तिहाड़ जेल की एक कोठरी में 2047 के शिक्षित और समृद्ध भारत का सपना मजबूती से बुना जा रहा है। झूठ और साजिशों के सामने ईमानदारी और शिक्षा की राजनीति का सपना जीतेगा जरूर। दिल्ली सरकार के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली आबकारी घोटाले में उनकी कथित भूमिका के लिए 26 फरवरी को गिरफ्तार किया था। वह तभी से जेल में हैं। सीबीआई के मामले में 30 मई को उच्च न्यायालय ने सिसोदिया को जमानत देने से इनकार कर दिया था। सिसोदिया को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दर्ज मामले में नौ मार्च को गिरफ्तार किया गया था और वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

पारामारिबो। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने घोषणा की है कि भारत ने सूरीनाम में मूल भारतीय प्रवासियों के 'ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया' (ओसीआई) कार्ड के लिए पात्रता मानदंड को 4थी से 6ठी पीढ़ी तक बढ़ाने का फैसला किया है, जो 150 साल पुराने द्विपक्षीय संबंधों में उनके महत्व को दर्शाता है। मुर्मू ने सोमवार को यहां इंडिपेंडेंस स्क्वायर पर एक समारोह को संबोधित करते हुए यह घोषणा की। इससे पहले सूरीनाम के अपने समकक्ष चंद्रिका प्रसाद संतोखी के साथ वे सूरीनाम में भारतीयों के आगमन के 150 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित एक सांस्कृतिक समारोह की गवाह बनीं। विदेश में बसे और वहां की नागरिकता ले चुके भारतीय लोगों के लिए ओसीआई कार्ड की सुविधा प्रदान की गई है। उल्लेखनीय है कि 452 भारतीय मजदूरों को लेकर 5 जून, 1873 को पहला जहाज 'लल्ला रुख' सूरीनाम की राजधानी पारामारिबो पहुंचा था। इनमें ज्यादातर मजदूर पूर्वी उत्तरप्रदेश और बिहार के रहने वाले थे। मुर्मू ने कहा कि आज इस ऐतिहासिक अवसर पर मुझे इस मंच पर यह घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि मेरी सरकार ने ओसीआई कार्ड के लिए पात्रता मानदंड को 4थी से 6ठी पीढ़ी तक बढ़ाने की मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि ओसीआई कार्ड को भारत के साथ उनके 150 साल पुराने संबंधों की एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में देखा जा सकता है। उन्होंने प्रवासी भारतीयों से भारत के साथ अपने संबंधों को बनाए रखने के प्रयास जारी रखने का आग्रह किया। इससे पहले ओसीआई सुविधा भारत से सूरीनाम पहुंचे समुदाय के मूल पूर्वजों की केवल 4 पीढ़ियों तक के लिए ही थी। नतीजतन 5वीं और बाद की पीढ़ियों से संबंधित समुदाय के कई युवा सदस्य इस लाभ से वंचित थे। मुर्मू ने कहा कि हम सभी सूरीनाम में भारतीयों के आगमन की 150वीं वर्षगांठ मनाने के लिए आज यहां एकत्र हुए हैं, जो सूरीनाम के इतिहास में मील का एक महत्वपूर्ण पत्थर है। इस अवसर पर मैं अपने पूर्वजों को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं और उन लोगों को सलाम करती हूं जिन्होंने इस राष्ट्र के निर्माण में मदद की। उन्होंने कहा कि एक बहुसांस्कृतिक समाज और अवसरों की भूमि के रूप में सूरीनाम ने उन सभी विभिन्न समुदायों का स्वागत किया है, जो यहां आए और बस गए। उन्होंने कहा कि इन वर्षों के दौरान विविध समुदाय एक परिवार और एक देश के रूप में विकसित हुए। उन्होंने एकता और समावेशिता के प्रति समर्पण और प्रतिबद्धता के लिए सूरीनाम के लोगों की सराहना भी की। राष्ट्रपति मुर्मू ने कहा कि उन्हें यह जानकर प्रसन्नता हुई है कि विशाल भौगोलिक दूरियों, विभिन्न समय क्षेत्रों और सांस्कृतिक विविधता के बावजूद भारतीय प्रवासी हमेशा अपनी जड़ों से जुड़े रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत अपनी विविधता के लिए जाना जाता है और दोनों देशों के बीच बहुत सारी समानताएं भी हैं। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के लोग एक-दूसरे के समाज में बहुत आसानी से मिल-जुल सकते हैं। मुझे ऐसा लग रहा है कि मैं अपने घर पर हूं। उन्होंने कहा कि पिछले 150 वर्षों में भारतीय समुदाय न केवल सूरीनाम में समाज का एक अभिन्न अंग बन गया है, बल्कि यह भारत और सूरीनाम के बीच गहरी साझेदारी का एक महत्वपूर्ण स्तंभ भी है। राष्ट्रपति ने कहा कि ऐसे समय में जब सूरीनाम अपने पूर्वजों की विरासत और भारत के साथ अपने संबंधों का जश्न मना रहा है, भारत एकजुटता और श्रद्धा के साथ सूरीनाम के साथ खड़ा है। सूरीनाम और भारत दोनों ने औपनिवेशिक शासन की लंबी अवधि के बाद अपनी अर्थव्यवस्थाओं और सामाजिक प्रणालियों के पुनर्निर्माण के लिए प्रयास किए हैं। उन्होंने कहा कि इस अनुभव ने दोनों देशों के बीच एकजुटता की भावना पैदा की है। मुर्मू ने कहा कि भारत-सूरीनाम द्विपक्षीय संबंध विकास की साझा आकांक्षाओं पर आधारित हैं। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आने वाले दिनों में भारतीय समुदाय इस संबंध को मजबूत करना जारी रखेगा और आप में से प्रत्येक व्यक्ति दोनों देशों को जोड़ते हुए भारत और सूरीनाम के बीच एक पुल के रूप में काम करता रहेगा। इस अवसर पर मैं आप सभी को भारत आने, भारत की विकास यात्रा देखने और उसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित करती हूं। इससे पहले सोमवार को राष्ट्रपति ने बाबा और माई स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। बाबा और माई स्मारक सूरीनाम में पहली बार पैर रखने वाले पहले भारतीय पुरुष और महिला का प्रतीकात्मक प्रतिनिधित्व करता है। इसके बाद उन्होंने मामा श्रनन स्मारक में सम्मान व्यक्त किया। इस स्मारक में एक महिला अपने 5 बच्चों को लिए हुए है। इस महिला को सूरीनाम की मां मामा श्रनन तथा पांचों बच्चों को सूरीनाम की 5 विशेषताओं का प्रतीक माना जाता है। मुर्मू ने सूरीनाम के राष्ट्रपति द्वारा उनके सम्मान में आयोजित दोपहर के भोज में भी भाग लिया। इस दौरान अपने संबोधन में राष्ट्रपति मुर्मू ने एक समावेशी विश्व व्यवस्था के लिए भारत के उस दृष्टिकोण को रेखांकित किया, जो हर देश और क्षेत्र के वैध हितों और चिंताओं के प्रति संवेदनशील है। मुर्मू 3 दिवसीय राजकीय यात्रा पर रविवार को सूरीनाम पहुंचीं। पिछले साल जुलाई में पदभार संभालने के बाद यह उनकी पहली राजकीय यात्रा है।(भाषा) Edited by: Ravindra Gupta Kabaddi Betting Sites INDvsAUS भारत की कौशल और जज्बे से भरी टीम बुधवार से जब यहां Australia ऑस्ट्रेलिया की मजबूत टीम के खिलाफ World Test Championship विश्व टेस्ट चैंपियनशिप WTC Final (डब्ल्यूटीसी) फाइनल में उतरेगी तो उसकी नजरें ICC (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) खिताब के एक दशक के सूखे को खत्म करने पर टिकी होंगी।WTC के पिछले दो चक्र में भारत सबसे निरंतर प्रदर्शन करने वाली टीम रहा है और पिछले 10 साल में सफेद गेंद के लगभग सभी बड़े टूर्नामेंट के नॉकआउट चरण में जगह बनाने में सफल रहा लेकिन इसके बावजूद खिताब नहीं जीत पाया।